किया बिना पेंट और कपड़ो के भी लोग मेट्रो में सफर करते हे ऐसा किसी ने सोचा भी नहीं होगा लेकिन ऐसा हुआ हे सच में.

दोस्तों हर साल अमेरिका में लोग आठ जनवरी के दिन बिना कपड़ो के इस डे को मनाते हे मतलब बिना कपड़ो के लोग घूमते हे हे न अजीबो गरीब डे


और तो और ऑफिस जाने वाले लोग भी इसमें शामिल हो गए कुछ लोग एक दूसरे को देखकर शर्मा भी जाते हे अब कपड़े नहीं पहनेगें तो शर्म तो आएगी ही

अगर ऐसा हमारे देश में हो जाता तो सोचो किया होता और अगर ऐसा दुबई में होता तो सोचो किया किया हो जाता


लेकिन किसी न किसी चीज़ पर कोई न कोई कारण जरूर होता हे तभी वो चीज़ होती या बनती हे खेर जो भी हे सब ठीक ही हे अब जैसे हमारे देश में अलग अलग तरह के डे बनते हे अलग अलग तियोहार बनते हे तो दूसरे देश के लोग भी हमारे तियोहारो को अजीबो गरीब बोल देते हे लेकिन इससे किसी को कोई फर्क नहीं पड़ता और पड़ना भी नहीं चाहिए.